Category : लव स्टोरी

मुट्ठी से फिसलता समय:वक्त बीतता जाता है...

हम तो अभी भी जिंदगी को भरपूर जी रहे हैं। वक्त कब किसके लिए ठहरता है !!हम जीवन को रोकर जिएं या हंसकर ,समय तो अपनी रफ्तार से चलता रहता...

Read More

बरसात की एक रात: जज्बातों और सवालातों से...

दिल खो गया फिर उस रात में जब कई सवाल उठे थे मन में। समय के साथ सवालों के जवाब मिल ही जाते है। सुनीता रमन की सुंदर कहानी पढ़िए और खो...

Read More

बरसात की एक रात: क्या यहीं प्यार था...

बरसात यूं तो सभी को अच्छी लगती है पर कई बार ये ही बरसात दे जाती है कुछ ऐसी यादें जिन्हे याद करके होती है आंखों से बरसात। बरसात में...

Read More

कांच से रिश्ते

किसी भी रिश्ते की नींव विश्वास पर टिकी होती है अगर एक बार विश्वास टूट जाये तो वापस कभी नहीं जुड़ता। रिश्तों में दरार आ ही जाती है।...

Read More

सच्चा प्रेम: प्रेमी को पाना नहीं बल्कि प्रेमी...

प्रेम शब्द सुनकर बहुधा प्रेमी-प्रेमिका के ईश्क की ओर ध्यान जाता है । प्यार या प्रेम को परिभाषित करना उतना ही कठिन है , जितना गूंगे...

Read More

क्या यह वही है: यादों में दिल खो गया, यूं...

प्यार, जिसको मिल जाए जिंदगी हसीन हो जाती है। जिसको न मिले उसे चाहे सब कुछ मिल जाएं फिर भी कुछ कमी रह जाती है।

Read More

पहला प्यार: अधूरा ही सही,पर है अपने आप में...

जरूरी नहीं है कि प्यार को पाया ही जाए, क्यों न दूर रहकर प्यार को निभाया जाए।

Read More

ये इश्क नहीं आसां: काश तुम मुझे समझ पाते...

" ठीक है, मैं सीधे मुद्दे पर आता हूँ , दरअसल मैं तुमसे माफी माँगना चाहता हूँ, तुम मेरा पहला पहला बचपन का प्यार हो, तुम्हे भुलाना आसान...

Read More

फ़र्स्ट लव : बड़ी बेनूर थी ये रूह मेरी, तुम्हारे...

धीरे-धीरे मेरी दीवानगी एक तरफ़ा प्यार में कब बदली, मैं जान भी न सका। कई बार मैंने अपने आपको मन ही मन डांटा भी कि जिसने रहने को सर के...

Read More